उत्तर प्रदेश

सुलतानपुर अपहरण कांड: मुख्यमंत्री ट्राॅमा सेण्टर पहुंचे, घायल बच्चे का लिया हाल-चाल, कठोरतम कार्यवाई सुनिश्चित करने के निर्देश

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद सुल्तानपुर में दो सगे भाइयों के अपहरण की घटना में एक बच्चे की हत्या पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने शुक्रवार को यहां किंग जाॅर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के ट्राॅमा सेण्टर पहुंचकर घटना में घायल बच्चे का हाल-चाल लिया और चिकित्सकों को उसका समुचित उपचार किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने दिवंगत बालक प्रियांश के परिजनो को 05 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान किए जाने की घोषणा की है। इसके अलावा घायल बालक दिव्यांश के उपचार के लिए परिजनों को 02 लाख रुपये की आर्थिक मदद उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए हैं।

कठोरतम कार्यवाई सुनिश्चित करने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने पुलिस को अपराधियों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाई सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए हैं। वहीं अपहरण की इस घटना को अंजाम देने में पीड़ित परिवार के घर में काम करने वाले नौकर की संलिप्तता सामने आने के बाद मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को घरेलू कार्मिकों के पुलिस सत्यापन के लिए प्रदेशव्यापी अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं।वहीं इस घटना के सम्बन्ध में पुलिस गुरुवार देर रात चार अपराधियों को गिरफ्तार कर चुकी है।

स्वॉट के साथ क्राइम ब्रांच की टीम भी

गौरतलब है कि गोसाईगंज क्षेत्र के रहने वाले एक टेन्ट व्यवसायी राकेश कुमार के दो बच्चे प्रियांश (06) कक्षा एक और दिव्यांश (08) कक्षा दो में सरस्वती शिशु मंदिर कटका के छात्र हैं। गुरुवार को दोपहर स्कूल में अवकाश के बाद दोनों पैदल ही घर लौट रहे थे। रास्ते में अज्ञात मोटर साइकिल सवार लोगों ने बहला फुसला कर उनका अपहरण कर लिया था। थोड़ी देर बाद बच्चों के पिता के फोन पर 50 लाख की फिरौती मांगी थी। वहीं, पुलिस को सूचना देने पर अंजाम बुरा होने की धमकी दी। इस पर व्यवसायी ने घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी। थानाध्यक्ष केबी सिंह ने अधिकारियों को अवगत कराते हुए जांच पड़ताल में जुट गये। वहीं, पुलिस अधीक्षक अनुराग वत्स ने स्वॉट के साथ क्राइम ब्रांच की टीम को भी लगा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.