राज्य

राजस्थान में CM की दौड़ में गहलोत, सचिन से आगे, राहुल ने कार्यकर्ताओं से मांगी राय

नई दिल्ली: कांग्रेस विधायक दल ने राजस्थान में मुख्यमंत्री चुनने का अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को दिया है। सीएम पद की दौड़ में दो बार मुख्यमंत्री रहे अशोक गहलोत को सचिन पायलट से आगे बताया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक पार्टी आलाकमान अनुभव को देखते हुए राज्य की कमान गहलोत को ही सौंपने के मूड में है। वहीं सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री पद या बड़े मंत्रालयों की जिम्मेदारी सौंपकर नंबर दो की स्थिति दी जा सकती है। वहीं आज राहुल गांधी ने सीएम बनाने के सवाल पत्रकारों को दिया जवाब कि मुख्यमंत्री के नाम पर फैसला जल्द होगा।

कमान गहलोत को ही सौंपने के मूड में

अटकलें थीं कि मुख्यमंत्री पद को लेकर खींचतान के बीच गहलोत और पायलट को दिल्ली बुलाया गया है पर बाद में दोनों नेताओं को राज्य में ही रुकने को कहा गया। माना जा रहा है कि पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल द्वारा रिपोर्ट सौंपने के बाद ही तस्वीर साफ होगी। सूत्रों के मुताबिक पार्टी आलाकमान अनुभव को देखते हुए राज्य की कमान गहलोत को ही सौंपने के मूड में है। वहीं सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री पद या बड़े मंत्रालयों की जिम्मेदारी सौंपकर नंबर दो की स्थिति दी जा सकती है।

पार्टी नेताओं ने बुधवार देर रात राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा भी पेश कर दिया। इससे पहले दिनभर विधायकों की बैठकों का दौर चलता रहा। बाद में सीएम चुनने का अधिकार राहुल गांधी को सौंप दिया गया।

अंतिम फैसला लेने का अधिकार राहुल के पास

मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के लिए कमलनाथ को शीर्ष दावेदार माना जा रहा है जबकि राजस्थान में अशोक गहलोत मुख्यमंत्री पद की दौड़ में आगे चल रहे हैं। हालांकि प्रदेश कांग्रेस समिति के प्रमुख सचिन पायलट ने भी अपनी दावेदारी छोड़ी नहीं है। राजस्थान में मुख्यमंत्री पद की दौड़ में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट शामिल हैं जबकि मध्य प्रदेश में पार्टी के सांसद कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया दावेदार हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष सबसे पहले मध्य प्रदेश के लिए पार्टी पर्यवेक्षक ए के एंटनी और राजस्थान के लिए पर्यवेक्षक के सी वेणुगोपाल से मुलाकात करेंगे तथा इसके बाद संभावित उम्मीदवारों से मुलाकात करेंगे। पर्यवेक्षकों ने जयपुर और भोपाल में बुधवार को पार्टी के नव निर्वाचित विधायकों से चर्चा की। वे गांधी को इस बारे में जानकारी देंगे कि विधायक किसे अपना मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं।

राहुल ने कार्यकर्ताओं से मांगी राय

पिछले 24 घंटे में गांधी की ओर से एक ऑडियो संदेश तीनों राज्यों में 7.3 लाख पार्टी कार्यकर्ताओं को भेजा गया जिसमें उनसे मुख्यमंत्री पद के लिए उनकी राय पूछी गई। ऑडियो संदेश में उन्हें तीन मुख्य राज्यों में विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत के लिए नेताओं को बधाई देते हुए सुना गया। उन्होंने कहा, ”अब मैं आपसे एक अहम सवाल पूछना चाहता हूं : किसे मुख्यमंत्री बनना चाहिए? कृपया एक नाम बताए। आप जो नाम बताएंगे उसके बारे में केवल मुझे ही पता होगा। पार्टी में किसी को भी यह पता नहीं चलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.