उत्तर प्रदेश

अपराध और भयमुक्त होंगे पंचायत चुनाव, जितनी भी मेहनत पड़ेगी करूंगा : अशोक कुमार सिंह

आशुतोष गु्प्ता, रायबरेली: ‘सत्ता के सामने सयानापन बेकार है. मोम का हाकिम लोहे के चने चबवाता है ‘सरदार पटेल के शब्द आज एक ऐसे अधिकारी पर सटीक बैठ रहे हैं जिसने रायबरेली जिले के डलमऊ क्षेत्र के क्षेत्राधिकारी के रूप में कमान संभालते ही बड़े से बड़े अपराधियों को लोहे के चने चबाने पर मजबूर कर दिया। डलमऊ क्षेत्र के क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार सिंह ने आगामी त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव के प्रथम चरण का चुनाव 15 अप्रैल से शुरू होगा इसके देखते हुए राज्य चुनाव आयोग और कप्तान श्लोक कुमार के कुशल नेतृत्व एवं दिशा निर्देश का पालन करते हुए अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया गया जिससे कि चुनाव पूरी तरीके से भयमुक्त और निष्पक्ष हो सके। The Freedom News से खास बातचीत में उन्होंने कहा कि ‘मेरे क्षेत्र में चुनाव पूरी तरह से भय मुक्त और निष्पक्ष होगा इसके लिए मुझे चाहे जितनी मेहनत करनी पड़े मैं करूंगा’।

पूरे क्षेत्र में कुल 216 ग्राम पंचायतों की संख्या है जिसमें 306 मतदान केंद्र बनाए गए हैं और 731 मतदेय स्थलों की संख्या चिन्हित की गई है। मतदान केंद्रों को पुराने रिकार्ड और नए रिकॉर्ड को देखते हुए चार कैटेगरी में बांटा गया है ।पहला अति संवेदनशील प्लस जिसमें 26 मतदान केंद्रों को शामिल किया गया है ।दूसरा अति संवेदनशील जिसमें 35 मतदान केंद्र शामिल किए गए । संवेदनशील क्षेत्र में 31 मतदान केंद्र । वहीं सामान्य क्षेत्र में 214 मतदान केंद्र चिन्हित किए गए हैं ।जमा लाइसेंस शस्त्रों की बात करें तो कुल 1139 शस्त्रों को माल खाने में जमा किया जा चुका है।

चुनाव संबंधित अपराधिक मामलों की बात की जाए 107/116 दप्रस की कार्यवाही 7485से अधिक मामलों में कार्यवाही की गई।वहीं 110G के तहत 221 से अधिक लोगों पर कार्यवाही ,और गुंडा एक्ट के तहत 25 लोगों पर ,गैंगस्टर के तहत 1 पर कार्यवाही की गईं। यह उपलब्ध आंकड़े 8 अप्रैल 2021 तक के हैं।

द फ्रीडम स्टॉफ
पत्रकारिता के इस स्वरूप को लेकर हमारी सोच के रास्ते में सिर्फ जरूरी संसाधनों की अनुपलब्धता ही बाधा है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के सुझाव दें।
http://thefreedomnews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.