देश

गैस चैम्बर बनी दिल्ली में सांस लेना फिर मुश्किल:पराली की वजह से 600 तक पहुंचा AQI

पराली जलने और गाड़ियों से हो रहे प्रदूषण की वजह से दिल्ली की हवा एक बार फिर जहरीली होने लगी है। नतीजतन गुरुवार सुबह एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (AQI) 418 तक पहुंच गया और पूरी दिल्ली घने कोहरे की चपेट में आ गई। AQI हवा की क्वालिटी मापने का पैमाना है, जो 200 तक सामान्य माना जाता है। 400 से ऊपर होने पर इसे बेहद गंभीर माना जाता है।

लोगों ने एक बार फिर इसकी शिकायत शुरू कर दी है। एक महिला ने कहा कि उनके बच्चे को सांस लेने में दिक्कत आ रही है। कुछ लोग सरकार से स्कूल बंद करने की अपील कर रहे हैं। हालांकि, कुछ का कहना है कि स्कूल बंद करना इसका इलाज नहीं है।

आंनद विहार में AQI 449, मुंडका में AQI 422, वजीरपुर में AQI 434, नरेला में AQI 429, बवाना में AQI 447, अलीपुर में AQI 419, अशोक विहार में AQI 433, जहांगीरपुरी में AQI 455 और इंडिया गेट AQI 419 दर्ज किया गया है। वहीं, मध्य दिल्ली में मंदिर मार्ग जैसे कुछ स्टेशनों को छोड़कर राजधानी के अधिकांश स्टेशनों में AQI 300 से ऊपर है। SAFAR के आंकड़ों के अनुसार, मॉडल टाउन के धीरपुर में AQI 457 दर्ज किया गया है। IGI एयरपोर्ट (टी3) के पास AQI भी आज 346 पर ‘बहुत खराब’ श्रेणी में रहा।

सरकार ने क्या कदम उठाए…

ऐसे में कमीशन फॉर एयर क्वॉलिटी मैनेजमेंट (CAQM) ने ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान (ग्रैप) का तीसरा चरण लागू कर दिया है।
अगले आदेश तक सभी निर्माण कार्य और विध्वंस गतिविधियों को रोक दिया है।
प्रदूषण को बढ़ावा देने वाले सारे कामों पर रोक लग गई है।
दिल्ली-NCR में कंस्ट्रक्शन और डिमोलिशन एक्टिविटी बंद हो जाएगी।
सड़कों की सफाई होगी और रोज पानी की छिड़काव होगा।
ऐहतियातन क्या किया जा रहा है…
एयर पॉल्यूशन बढ़ने से एक निजी स्कूल ने फिजिकल क्लासेस बंद कर दी हैं। स्कूल में शुक्रवार से ऑनलाइन क्लास होगी। सूत्रों के अनुसार, दूसरे स्कूल भी इसी राह पर हैं। यह फैसला NCPCR की ओर से दिल्ली सरकार को लिखे पत्र के बाद लिया गया है। इसमें एयर क्वालिटी सुधरने तक स्कूलों को बंद रखने का आग्रह किया गया है।

शिकायत, अपील और सलाह…

शिकायत: दिल्ली में दमघोंटू हवा से लोगों को आंखों में जलन और सांस लेने में तकलीफ हो रही है। पेरेंट्रस का कहना है कि स्कूल बंद होने चाहिए, क्योंकि बच्चों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है। वहीं, कुछ पेरेंट्स का कहना है कि स्कूल बंद करना समाधान नहीं है, क्योंकि कोरोना के चलते भी पढ़ाई में नुकसान हुआ था। सरकार को एयर क्वालिटी को सुधारने पर फोकस करना चाहिए।

अपील: राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने दिल्ली सरकार से हवा की गुणवत्ता में सुधार होने तक स्कूलों को बंद करने का आग्रह किया है। इसके अलावा पराली जलाने पर भी रोग की मांग की जा रही है।

सलाह: डॉक्टर्स ने लोगों को सावधानी बरतने के लिए कहा है। अस्थमा के मरीजों को कई तरह की दिक्कतों हो सकती है। साथ ही सुबह शाम की सैर कम कर करने की सलाह दी है।

द फ्रीडम स्टॉफ
पत्रकारिता के इस स्वरूप को लेकर हमारी सोच के रास्ते में सिर्फ जरूरी संसाधनों की अनुपलब्धता ही बाधा है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के सुझाव दें।
http://thefreedomnews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *