उत्तर प्रदेश

भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर को भी CBI जांच का भरोसा नहीं, सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज करें जांच

ब्यूरो रिपोर्ट, उप्र: हाथरस के बूलगढ़ी गांव में दलित युवती की भीषण पिटाई से मौत के मामले में प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ कई राजनीतिक दलों ने मोर्चा खोल रखा है। कांग्रेस, समाजवादी पार्टी व राष्ट्रीय लोकदल के नेताओं के बाद रविवार को भीम आर्मी के चंद्रशेखर ने भी पीड़ित परिवार से मुलाकात की। परिवार से मिलने के बाद चंद्रशेखर ने इनकी सुरक्षा की मांग करने के साथ ही सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज से केस की जांच कराने की मांग की। यानी चंद्रशेखर को सीबीआइ जांच पर भरोसा नहीं है।

भीम आमी के मुखिया चंद्रशेखर ने बूलगढ़ी गांव में पीड़ितों से मुलाकात के बाद कहा कि परिवार काफी दहशत में है। इस परिवार को वाई श्रेणी की सुरक्षा मिलनी चाहिए। चंद्रशेखर ने कहा कि जब बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत को सुरक्षा मिल सकती हैं, तो इस परिवार को वाई श्रेणी की सुरक्षा क्यों नहीं मिल सकती। उन्होंने सरकार से मांग की पीडि़त परिवार को वाई श्रेणी की सुरक्षा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस गांव में अब चारों तरफ सवर्ण समाज के लोग पंचायत कर रहे है। जिसके कारण पीड़ित परिवार गांव में सुरक्षित नहीं है। भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने कहा कि मैं परिवार के लिए मजबूत सुरक्षा की मांग करता हूं, अगर इनको अपेक्षित सुरक्षा नहीं मिलती है तो फिर मैं उन्हेंं अपने घर ले जाऊंगा। यह लोग यहां सुरक्षित नहीं हैं।

द फ्रीडम स्टॉफ
पत्रकारिता के इस स्वरूप को लेकर हमारी सोच के रास्ते में सिर्फ जरूरी संसाधनों की अनुपलब्धता ही बाधा है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के सुझाव दें।
http://thefreedomnews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.