देश

राकेश टिकैत पर हमले के बाद दिल्ली के बॉर्डरों पर किसान हुए उग्र, टैक्टर ट्रॉली लेकर लगाया जाम

सोनीपत: भाकियू नेता राकेश टिकैत की गाड़ी पर राजस्थान के अलवर में हुए हमले के विरोध में शुक्रवार देर दिल्ली के विभिन्न बॉर्डर पर बैठे किसान आक्रोशित हो गए। सबसे पहले गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने जाम लगा दिया। वहीं इसके कुछ समय बाद ही शाम को कुंडली बार्डर पर बैठे आंदोलनकारियों ने केएमपी (कुंडली-मानेसर-पलवल) एक्सप्रेस-वे को जाम कर दिया। रात होते होते चिल्ला बॉर्डर पर किसानों ने भी जाम लगा कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। केएमपी पर हालांकि, करीब 20 मिनट बाद ही संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने आंदोलनकारियों को वहां से वापस बुला लिया और इसके बारे में बाद में बैठक कर कोई निर्णय लेने की बात कही। दूसरी ओर, राकेश टिकैत ने भी संदेश जारी कर आंदोलनकारियों को शांत रहने को कहा है।

राजस्थान के अलवर जिले में शुक्रवार को राकेश टिकैत की गाड़ी पर हमला हो गया था। इसकी सूचना कुंडली बार्डर पर बैठे आंदोलनकारियों तक पहुंची तो वे आक्रोशित हो गए और शाम करीब पौने सात बजे ट्रैक्टर लेकर कुंडली के पास केएमपी पर चढ़ गए और जाम लगा दिया। अचानक जाम लगाने से केएमपी पर वाहनों की कतार लग गई।

इधर साहिबाबाद संवाददाता के अनुसार तीनों कृषि कानूनों के विरोध में 28 नवंबर से यूपी गेट पर धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार शाम साढ़े पांच बजे राष्ट्रीय राजमार्ग-नौ की दिल्ली से आने वाली लेन को बंद कर दिया। उन्होंने भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पर राजस्थान के अलवर जिले में हमला होने का आरोप लगाया। उन्हें सुरक्षा देने की मांग की। करीब एक घंटे बाद प्रदर्शनकारियों ने यह रास्ता खोला। इस दौरान लंबा जाम लग गया। राहगीरों को काफी परेशानी हुई।

द फ्रीडम स्टॉफ
पत्रकारिता के इस स्वरूप को लेकर हमारी सोच के रास्ते में सिर्फ जरूरी संसाधनों की अनुपलब्धता ही बाधा है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के सुझाव दें।
http://thefreedomnews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.