राज्य

कर्नाटक में 8वीं पास जीटी देवेगौड़ा बने शिक्षा मंत्री

बेंगलुरु: कर्नाटक में विभागों के बंटवारे से जद एस कोटे के दो मंत्री नाराज बताए जा रहे हैं। उनमें एक हैं, जीटी देवेगौड़ा, जो आठवीं पास हैं और उन्हें उच्च शिक्षा विभाग मिला है। सवाल उठने पर मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने साफगोई से कहा– ‘मैंने क्या पढ़ाई की है? मैं मुख्यमंत्री बना हूं।’ मालूम हो कि 59 वर्षीय कुमारस्वामी खुद बीएससी डिग्रीधारक हैं। उन्होंने सवाल किया-‘क्या मुझे वित्त विभाग मिलना चाहिए?’ जीटी देवेगौड़ा ने मैसुरु जिले में चामुंडेश्वरी विधानसभा क्षेत्र में पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को हराया है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक इस नाते वह कोई अहम विभाग की अपेक्षा रखते थे।

इस संबंध में कुमारस्वामी ने कहा– ‘कुछ लोगों की इच्छा खास विभागों में काम करने की होगी, लेकिन सभी विभागों में प्रभावी तरीके से काम करने का मौका है। हमें दक्षतापूर्वक काम करना है।’ उन्होंने कहा-‘क्या काम करने के लिए उच्च शिक्षा और लघु सिंचाई से भी अच्छा विभाग है?’

उन्होंने कहा कि पहले तो मंत्री बनने की ख्वाहिश होती है और उसके बाद फिर खास विभाग पाने की इच्छा आम है। खास मंत्रालयों की मांग होगी, लेकिन कुछ फैसले पार्टी में आंतरिक तौर पर लिए जाते हैं।

समर्थक करेंगे प्रदर्शन

एचडी कुमारस्वामी ने शुक्रवार रात विभागों का बंटवारा किया, लेकिन जीटी देवेगौड़ा तथा सीएस पुत्ताराजू समेत कुछ मंत्री नाराज हैं। इन दोनों ही मंत्रियों के समर्थक अपने जिलों मैसुरु और मांड्या से अपने नेता के लिए मनचाहा विभाग मांगते हुए जमकर प्रदर्शन करेंगे।

कर्नाटक सरकार में हैं 25 मंत्री

कुमारस्वामी ने खुद अपने पास वित्त, ऊर्जा विभाग रखे हैं, जबकि गृह विभाग अपने डिप्टी जी. परमेश्वर (कांग्रेस) को दिया है। विगत छह जून को मुख्यमंत्री ने 25 नए मंत्रियों को सरकार में शामिल किया है। इसमें उनकी अपनी पार्टी जद एस के अलावा, कांग्रेस, बसपा और केपीजेपी दलों के प्रतिनिधि भी शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.