मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश में सड़क किनारे शौच करने पर मासूमों की पीट-पीटकर हत्या, दो आरोपित गिरफ्तार

सौरभ अरोरा की रिपोर्ट: मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में दो दबंग भाइयों ने सड़क किनारे शौच करने पर दो मासूमों की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। दोनों मासूम बुआ-भतीजे थे। हत्या करके भाग रहे दोनों आरोपित हाकिम यादव और रामेश्वर यादव को गांववालों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। वारदात के बाद गांव में तनाव है। मौके पर पुलिस तैनात कर दी गई है। उधर, बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर वारदात की निंदा की है और फांसी की मांग की है।

जानकारी के मुताबिक रोशनी पुत्री कल्ला वाल्मीकि (12) और उसका भतीजा अविनाश पुत्र मनोज वाल्मीकि (10) बुधवार सुबह शौच के लिए खुले में सड़क किनारे बैठे थे। इसी दौरान गांव के ही हाकिम यादव (45)व रामेश्वर यादव (36) मौके पर पहुंचे। दोनों ने बच्चों से कहा कि सड़क पर गंदगी कर रहे हो। बच्चे जब नहीं हटे तो उन्हें लाठियों से पीटने लगे। सिर पर गंभीर चोट आने से दोनों बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई। इसी बीच, गांव पहुंचे वाल्मीकि समाज के नेताओं ने सोशल मीडिया पर वीडियो डालकर आरोप लगाया कि दोनों बच्चों के शव तौलिए में लिपटे हुए हैं, उन्हें कफन तक प्रशासन व पुलिस उपलब्ध नहीं करा सकी। समाज के लोगों ने चंदा कर कफन और अंतिम संस्कार का इंतजाम किया है।

आरोपित हाकिम ने पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए मनगढ़ंत कहानी भी सुनाई। हत्या का कारण बताते हुए हाकिम ने पुलिस से कहा कि उसे सपना आया था कि इनका संहार कर दो, इसलिए उसने ऐसा किया। वहीं कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि दबंगों ने दुष्कर्म की कोशिश की, लेकिन बच्चों ने विरोध किया तो उनकी हत्या कर दी।

अविनाश के पिता मनोज ने पुलिस को बताया कि दो साल पहले उसने गांव में झोपड़ी बनाने के लिए सड़क किनारे पेड़ से लकड़ी काटी थी। उस समय हाकिम और रामेश्वर ने उसके साथ गाली-गलौज की थी। वह आरोपितों के खेतों पर काम भी करता है। केवल 50 रुपये मजदूरी देने का विरोध करने पर भी आरोपित धमकाते थे।

द फ्रीडम स्टॉफ
पत्रकारिता के इस स्वरूप को लेकर हमारी सोच के रास्ते में सिर्फ जरूरी संसाधनों की अनुपलब्धता ही बाधा है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के सुझाव दें।
http://thefreedomnews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.